प्यारिसी एक नन्हीं चिड़िया…

हवा बेहती है उसे बेहने दो
मन के रंग दिल से खिलने दो
आजाद है जिंदगी उसे आजाद रहने दो
चिड़िया के जैसे उसे उड़ती हवाओं में उड़ाने दो ।।

पल दो पल की तो बात है
जीने का एक अंदाज सीख लेने दो
उन्ह खुशियों का मोहताज होने का
एक प्यारासा एहसास होने ददो ।।

Advertisement